सरकारी शिक्षा नीति के खिलाफ 7 अप्रैल को रामलीला मैदान में धरना देंगे निजी स्कूल

Daily Hunt
News Dated: 
22-Mar-2018

नई दिल्ली, 22 मार्च (हि.स.)। सरकार की शिक्षा नीति के खिलाफ निजी स्कूल अगले माह 7 अप्रैल को दिल्ली के रामलीला मैदान में धरना देंगे। इसमें देशभर से एक लाख स्कूल संचालक, प्रिंसिपल और अध्यापक जुटेंगे। प्राइवेट स्कूलों के अखिल भारतीय संगठन नेशनल इंडिपेंडेंट स्कूल्स अलायंस (निसा) व नेशनल कोएलिशन फॉर स्कूल एजुकेशन के अध्यक्ष कुलभूषण शर्मा ने गुरुवार को यहां आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अगले 15 दिनों तक देश के विभिन्न राज्यों में आरटीई की विसंगतियों व गलत शिक्षा नीति के बाबत अलख जगाने के बाद 7 अप्रैल को दिल्ली के रामलीला मैदान में विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। इसमें देशभर से 1 लाख से अधिक स्कूल संचालकों, प्रिंसिपल और अध्यापक शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण आज शिक्षा के क्षेत्र में भय का माहौल पैदा हो गया है। आज छात्र, अभिभावक, अध्यापक, प्रिंसिपल सभी भय के माहौल में जी रहे हैं| इससे गुणवत्ता युक्त शिक्षा प्रदान करना असंभव होता जा रहा है। उन्होंने कि शिक्षा के क्षेत्र से जुड़ी समस्याओं के समाधान के लिए शिक्षा का अधिकार कानून लाया गया था, लेकिन कानून ने नई समस्याएं पैदा कर दी हैं। सरकारी स्कूल में कोई दाखिला लेना नहीं चाहता, जबकि सरकार हमारे स्कूल चलने नहीं देना चाहती है। हमारी मांग है कि सरकार सभी बच्चों को डीबीटी माध्यम से शिक्षा वाउचर उपलब्ध कराए जिससे वे अपने पसंद की स्कूल में पढ़ सकें।