CBSE पेपर लीक: निजी स्कूलों के संगठन ने प्रकाश जावड़ेकर के इस्तीफे की मांग की

पंजाब केसरी, Republic World
News Dated: 
31-Mar-2018

निजी स्कूलों का नेतृत्व करने वाले एक संगठन ने सरकार पर बोर्ड परीक्षाओं को उचित तरीके से करा पाने में असफल रहने का आरोप लगाते हुए केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के इस्तीफे की मांग की है.

‘नेशनल इंडिपेंडेंट स्कूल एलायंस’ (एनआईएसए) के अध्यक्ष कुलभूषण शर्मा ने कहा कि सीबीएसई पेपर लीक बच्चों के लिए‘‘ तनाव का कारण’’ बना है. एनआईएसए देश में 60,000 निजी स्कूलों का नेतृत्व करने का दावा करता है.

उन्होंने कहा कि सरकार परीक्षाओं को उचित तरीके से करा पाने की जिम्मेदारी क्यों नहीं ले रही.

शर्मा ने एक बयान में कहा, ‘‘हमने बार-बार सीबीएसई से अनुरोध किया कि बोर्ड को अपनी भूमिका मुख्य उद्देश्य तक सीमित करनी चाहिए जो कि परीक्षाएं कराना है. राजनीतिक दबाव के चलते, सीबीएसई अपने मुख्य उद्देश्य से भटक गई है और उसने नियन्त्रक के तौर पर काम करना शुरू कर दिया है.’

उन्होंने कहा, ‘‘सीबीएसई क्योंकि एचआरडी मंत्रालय के अधीन काम करती है, इसलिए हम इसे मंत्रालय की असफलता के तौर पर देखते हैं और एचआरडी मंत्री के तत्काल इस्तीफे की मांग करते हैं.’

एनआईएसए ने सीबीएसई को ‘‘पूर्णत: स्वतंत्र एवं स्वायत्त संगठन’’ बनाने का सुझाव दिया और मंत्रालय और बोर्ड की भूमिकाओं के विभाजन की मांग भी की.

यह खबर पंजाब केसरी एवं Republic World के वेबसाइट पर पढ़ें.